Chudai Kahani मेरी कमसिन जवानी की आग
09-05-2019, 02:24 PM,
#71
RE: Chudai Kahani मेरी कमसिन जवानी की आग
उसकी बातों से मेरा ध्यान क्या भटका कि तभी अंकित अपने लंड को मेरी चूत के मुहाने में रखकर एकदम से लंड पेल दिया. उसकी इस तरकीब से लंड घुस गया और मेरी चीख निकल गई. उसने लंड को ताकत से मेरी चूत में दबाया तो मैं चिल्ला उठी- भाई अंकित … मार डालेगा क्या साले.. भोसड़ी के बहुत दर्द हो रहा है.
जबकि उसका थोड़ा सा ही लंड का सुपारा घुसा था लेकिन मेरी हालत बहुत खराब हो गई थी. सच में अंकित का बहुत मोटा लंबा लंड था.
अंकित बोला- अभी तो साली बोल रही थी कि चाहे कुछ भी हो जाए.. जमकर चोदना.. फाड़ देना मेरी चूत को.. अब ले झेल मेरा लौड़ा खा साली.
अंकित ने पूरी ताकत लगा कि जैसे ही अपना लंड घुसाया, मैं इतनी जोर से चिल्लाने लगी और रोने लगी कि जैसे मेरी जान निकलने लगी हो. मैं गाली भी देने लगी- कुत्ते साले मादरचोद छोड़ दे कमीने भड़वे.. बहुत गंदा है, निकाल ले अपना लंड मुझे नहीं चुदवाना.. कोई बचा लो मुझे बहुत दर्द हो रहा है बचा लो कोई मुझे इस राक्षस से.. हरामी साला मार डालेगा.. बचा लो ओ गॉड.. बचा लो मुझे इस राक्षस से.. देखो न राज अंकल मेरी चूत से खून निकल रहा है क्या.. मुझे बचाओ कोई मेरी चूत फट गई लगती है.
तभी राज अंकल ने आकर देखा और बोले- अंकित थोड़ा आराम से डाल.. हल्का हल्का खून आ गया है सोनू की चूत से.यह सुनते ही मैं और जोर से रोने लगी चिल्लाने लगी- मेरी चूत को फाड़ डाला.. यह बहुत हरामी है, मम्मी बचा लो … बहुत जोर से दर्द हो रहा है.. बहुत गन्दा चोदता है.तभी अंकित ने पूरा का पूरा लंड डाल दिया और बोला- संध्या तू बहुत बड़ी छिनाल है साली.. और ले कुतिया.. आज तेरी चूत की चीथड़े उड़ा दूँगा.
उसने जोर से धक्का मारा तो बिल्कुल ऐसा लगा कि मेरी चूत फट गई हो. उधर पीछे समाली अंकल मेरी गांड में डाले जोर जोर से चोद रहे थे. मुझसे रहा नहीं जा रहा था, पर मैं क्या करती, मेरे हाथ में कुछ नहीं बचा था. इसी समय मेरे पीछे गांड में मुझे अजीब सी गुदगुदी सी होने लगी और मैं अपनी कमर को उठाकर पीछे करने लगी ताकि समाली अंकल का लौड़ा और घुस जाए.
इस बात को समाली अंकल समझ गए और बोले- संध्या, मैंने अपना पूरा लंड तेरी गांड में घुसाया हुआ है.. रुक और तेजी से तेरी गांड में अपना लंड ठोकता हूं.
अब समाली अंकल ने मेरे बालों को पकड़ लिया और थोड़ा पोजीशन बदल कर मेरी गांड को चोदने लगे. बहुत फच फच की आवाज आने लगी और अंकल गन्दी गालियां भी देने लगे- ओहहह मेरी जान संध्या … तेरी गांड को चोदे बिना अब नहीं रह पाऊंगा, तू यहीं रह जा अपने मौसी के यहाँ.. मैं हर दिन अलग अलग लंड का इंतजाम कर दिया करूंगा.. आह. साली मादरचोदी.. तू दुनिया की सबसे बड़ी माल हो चुकी है.. तुझे मैं किसी दिन कुतिया बना कर चोद करूँगा किसी दिन घोड़ी बना कर तेरी गांड मार करूँगा.मैं बोली- हां साले बुड्डे लौड़े.. तेरे लंड में बहुत जान मादरचोद..तभी अचानक से समाली अंकल बोले- ओहहहह ऊंहहह संध्या … मेरा लौड़ा अब झड़ने वाला है.
उसी समय जाने किस तरह से हुआ कि जो मेरी चूत में अंकित का बहुत मोटा लंड जाने से दर्द हो रहा था, वह दर्द एक दम से गायब होने लगा और 2 मिनट बाद बचा हुआ दर्द भी जाने कहाँ चला गया. अब मैं अब बिल्कुल एक अलग सी मदहोशी की दुनिया में थी. मेरे जिस्म में अब कोई दर्द नहीं था, सिर्फ और सिर्फ सेक्स की प्यास थी.
मैं बोली- अंकित भाई, तू बहुत मस्त लड़का है.. बहुत जोर से डाल दे मैंने तुझे बहुत गाली दी.. मुझे पता नहीं क्या हो गया था.. आह.. तू तो बहुत मस्त लड़का है, मेरा भाई है.. मेरे सगी मौसी के बड़े जेठ का बेटा है, तो मेरा भाई ही है. मेरे भाई मुझे जम के चोद.. तेरा लौड़ा बहुत मस्त है.. मैं बहुत चुदासी हूं. तू आज मुझे जम के चोद पूरा लंड घुसा दे.
साथ ही मैंने समाली अंकल को भी बोला- अंकल आप अभी झड़ने का मत बोलो.. मुझे जम के चोदो.. मेरी गांड में जितना हो सके लंड डालो.. मैं बहुत चुदासी हूं, मैं आपकी हूं अभी 15 दिन यहीं हूं, आप बहुत मस्त हो जम के चोदो.
तभी ना जाने क्या हुआ संमाली अंकल मेरी गर्दन पकड़ कर मुझे जम के चोदने लगे और बोले- संध्या, तू आने वाले दो-तीन साल में बहुत बड़ी छिनाल रंडी बनेगी.. तेरे से मस्त माल पूरे हमारे एरिया में कोई नहीं होगा. मैं तेरा हमेशा आशिक रहूंगा.. तू आज मुझे जन्नत दिखा दी.. लेकिन मेरी जान संध्या मैं अब झड़ने वाला.. हूं मेरा लंड रस निकलने वाला है.
बस इतना कहते ही मेरी गांड में समाली अंकल का बहुत गर्म गर्म लंड रस छूट गया और मेरी गांड में भर गया. मैं अजीब से नशे में चूर थी. समाली अंकल ने रगड़ रगड़ कर पूरा लंड का रस मेरी गांड में छोड़ दिया. मेरी गांड के अन्दर कोई गरम रस निकला, इस तरह का एक मस्त अहसास मुझे हुआ. मुझे ये बहुत अच्छा लगा और मैं बिल्कुल पागल सी हो गई. पहली बार मेरी गांड में मुझे सेटिस्फेक्शन मिला, पूर्ण संतुष्टि मिली.
मैंने समाली अंकल को बोला- थैंक्यू अंकल.. आज पहली बार आपने मेरी गांड को सेटिस्फाई किया.. मैं हमेशा आपकी रहूंगी और आपके पास आ जाऊंगी.. जब भी आप बुलाओगे.अब समाली अंकल मेरी गांड से अपना लंड निकाल कर उठ गए और बोले- संध्या तू दुनिया की सबसे मस्त गांड वाली लड़की है, तेरा भाई लालजी सच बोल रहा था.
इधर आगे तरफ चूत में अंकित जोर जोर से अपना लंड मेरी चूत में रगड़ने लगा और घुसाने लगा. अब मुझे सिर्फ अंकित ही चोद रहा था. अंकित बहुत जोर जोर से मेरी चूत में अपना लंड डालकर अपनी और मेरी हवस मिटा रहा था. मैं भी उससे लिपट गई और बोली- अंकित तू बहुत मस्त लौंडा है.. तेरा मस्त लंड है. आज तू मुझे पूरा चोद दे और मेरी चूत भी फाड़ कर चाहे टुकड़े टुकड़े कर दे.
तभी अंकित ने मेरे दोनों दूध अपने हाथों से अपने पकड़ लिए और जमकर दबाने लगा. वो बेहद गन्दी गन्दी गालियां देने लगा. वो बोला- संध्या तू बहुत मादरचोदी है बहनचोद साली कुतिया.. मैं जानता हूं तेरी मम्मी भी छिनाल है. तेरी दोनों बहन भी बहुत चुडक्कड़ हैं, जब लालजी को मैं दारू पिला देता हूं, तो लालजी नशे में मुझे सब बताता है. संध्या तू बहुत बड़ी रंडी है ले मादरचोदी मेरा पूरा लंड खा.
उसने पूरी ताकत से लंड डाला और जम के धक्के मारने लगा. वो इतनी तेजी से अपना लंड मेरी चूत में डाल रहा था कि 5 मिनट के अन्दर ही उसने मेरी चूत को और मुझे बेहाल कर दिया. मुझे कुछ होश नहीं था.. मैं हवश और चुदाई की आग में जलने लगी मदहोश हो गई.
-  - 
Reply

09-05-2019, 02:25 PM,
#72
RE: Chudai Kahani मेरी कमसिन जवानी की आग
अब तक इस ग्रुप सेक्स स्टोरी में आपने पढ़ा कि मेरे मौसेर भाई ने मेरी चूत में पूरी ताकत से लंड डाल दिया और जम के धक्के मारने लगा. 5 मिनट के अन्दर ही उसने मेरी चूत को और मुझे बेहाल कर दिया. मुझे कुछ होश नहीं था.. मैं हवश और चुदाई की आग में जलने लगी, मदहोश हो गई.अब आगे..
अंकित ने मेरे होंठों पर अपने होंठ रख दिए और मेरे होंठों को जमकर चूसते हुए बोला- संध्या मां की लौड़ी साली छिनाल.. मैं जल्दी झड़ने वाला हूं तेरी चूत बहुत गर्म है और अब मेरे लौड़े का रस बस निकलने वाला है.
वो फटाफट मेरे अन्दर अपना लंड अन्दर बाहर करने लगा और दो-तीन मिनट के अन्दर ही अंकित ने अपने लंड का पूरा का पूरा गर्म गर्म लावा मेरी चूत में भर दिया. मैं अपने भाई की पीठ को नाखून से खरोंचने लगी, उसकी पीठ में अपने नाखूनों को गड़ाने लगी. इस वक्त मेरे जिस्म में एक अजीब सी हलचल मच गई थी. मेरी चूत में कुछ सरसराहट सी होने लगी थी. उस पल मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा था.. बस ऐसा लगा कि मेरी चूत में जैसे भूचाल आने वाला हो. मैं पगला गयी और अंकित से जमके लिपट गई. उसकी छाती को उसके बाजुओं को अपने नाखून से नोंचने लगी.
मैंने कामुकता में अंकित के मुँह में अपनी जीभ डाल दी और अंकित के जीभ को चूसने लगी और उसके होंठों को जमके चूसते हुए काटने भी लगी.तभी अचानक मेरी चूत भी बहने लगी.. मेरी चूत से पिचकारी की तरह रस निकलने लगा.अंकित बोला- संध्या तेरा चूत रस तो आग की तरह गर्म है.. मेरा लौड़ा जला जा रहा है.
मैं बोली- अंकित, हाँ मेरी चूत बहने लगी है.. तू बहुत मस्त है, मैं तुझे जहाँ भी मिलूं तू मुझे जरूर चोदना और जैसे, जिस तरह भी तुम्हें मुझे चोदना हो या किसी मस्त तेरे जैसे लंड वाले मर्द से चुदवाना हो.. तो तुम कोई परवाह मत करना.. बस मुझे अपनी चूत समझ कर चुदवा देना या खुद तुम चोद देना. अंकित, मैं बहुत सेक्सी लड़की हूं.. सच में बोल नहीं पाती हूं, पर मेरा मन करता है कि 24 घंटे मेरी चूत में किसी न किसी मर्द का लौड़ा घुसा रहे और कोई ना कोई मर्द मेरे जिस्म को मसलता रहे. मुझे बहुत चुदवाना है, मैं जब तक यहाँ हूं तब तक तुम लोग जमकर चोदते रहना. मेरी चूत बहुत टाइट है, वो खुल नहीं रही है, तुम लोग इसे चोद चोद कर पन्द्रह दिनों में खोल देना. आज मुझे जन्नत का मज़ा आया.. आप सबको थैंक्स. अब तो अपन सब आपस में खुल ही चुके हैं.. अब कोई परवाह नहीं है.

तभी राज अंकल मेरे पास आए आए और अंकित को बोले- अब तेरा लंड सिकुड़ कर छोटा हो गया है, उठ जा संध्या के ऊपर से.. और इसकी चूत को किसी कपड़े से पौंछ दे.
अंकित ने अपनी टी-शर्ट से ही मेरी पूरी चूत को साफ किया और मेरे जिस्म पर अपने होंठों से चुंबन लेने लगा. फिर बोला कि संध्या तू अब जल्दी से कपड़े पहन ले… हम लोग यहाँ से चलते हैं.राज अंकल भी बोले- हाँ सोनू.. अंकित ठीक बोल रहा है.
मैंने उठकर अपना टॉप और स्कर्ट पहना, पर जैसे ही उठी.. मुझसे चलते नहीं बन रहा था, पता नहीं मेरी जांघों और टांगों को क्या हो गया था. मुझे चलने में बहुत दर्द हुआ और जलन होने लगी थी.
तभी राज अंकल आए और मुझे अपनी गोदी में उठा कर बोले- संध्या, तू तो बहुत हल्की है.. कितना हल्का सा वजन है तेरा?मैं बोली- हां अंकल मैं सिर्फ 39 किलो की हूँ.राज अंकल बोले- चल वहाँ तक तुझे लिए चलता हूं सोनू.. और तू चिंता मत कर कल तुझे प्रेगनेंसी वाली टेबलेट ला दूंगा, तुझे कोई दिक्कत नहीं होगी.. और जो मैंने कहा है, वह भी करूंगा. तुझे तेरी मम्मी को चुदते हुए तेरे सामने ला दूंगा.मैं चहक कर बोली- ठीक है अंकल.
मैं उनकी गोदी में ही रही और जहाँ मेरी मौसी का घर था, वहाँ तक गेट पर मैं यूं ही गोद में आ गई. गेट के सामने उतार कर राज अंकल ने अंकित को बोला- पहले तू अन्दर जाकर देख, सब सो रहे हैं या कि नहीं?तब अंकित अन्दर गया और फिर 2 मिनट में बाहर आकर बोला- राज अंकल, चुपचाप संध्या को अन्दर जाने दो, सब लोग अभी सो रहे हैं.मैं बिल्कुल लड़खड़ाती हुई अन्दर गई और अपनी जगह पर लेट गई.
सुबह जब हुई तो मुझसे उठा नहीं जा रहा था, पूरे बदन पर इतना दर्द था कि बता नहीं सकती. जब मैं नहीं उठी तो मेरे पास मम्मी आईं और बोलीं- सोनू तू उठ क्यों नहीं रही?
-  - 
Reply
09-05-2019, 02:25 PM,
#73
RE: Chudai Kahani मेरी कमसिन जवानी की आग
तब मैं बोली- मम्मी लगता है मुझे बुखार चढ़ गया है.. मुझे मेरी तबीयत बहुत खराब लग रही है. शायद कल पूड़ी ज्यादा खा ली थी तो तो आज रात में दर्द हुआ था, पेट में और वोमटिंग होगी ऐसा लग रहा था.. लगता है फूड प्वाइजनिंग हो गया है.मम्मी ने एक दूसरे कमरे में एक बेड लगवाया और मुझसे बोलीं- सोनू तू वहाँ आराम से लेटी रहना, मैं तेरे खाने-पीने का इंतजाम कर दूंगी.. कुछ उल्टा-पुल्टा मत खाना और ना कहीं बाहर निकलना.
दोपहर बाद राज अंकल मेरे पास आए और मुझे दो टैबलेट देकर धीरे से बोले- सोनू इन्हें खा ले.. तुझे अगले 3 महीने तक प्रेगनेंसी नहीं होगी.मैंने वे दोनों टैबलेट खा लीं, तब अंकल फिर से बहुत ही धीरे से बोले- अब तू 3 महीने तक कितनी भी चुदाई करवा ले सोनू.. तुझे प्रेगनेंसी नहीं होगी.इसके बाद अंकल तुरंत चले गए क्योंकि वहाँ लोग आते-जाते थे.
मैं लगातार दो दिनों तक कहीं नहीं गई, थोड़ा भी कहीं आऊं जांऊ.. तो चलने पर मुझे बहुत दर्द हो रहा था.
तीसरे दिन राज अंकल फिर मेरे पास आए और बोले कि सोनू मैंने सब कुछ सैट कर लिया.. बस मानिकपुर चलेंगे और तेरी मम्मी से भी बात कर ली है. तेरी मम्मी को शापिंग का बहुत बड़ा लालच दिया तो तुरंत तैयार हो गई. तुझे ले जाने के लिए तो तेरी मम्मी खुद से बोली कि क्या मैं सोनू को भी अपने साथ ले चल सकती हूं, उसे भी एक दो ड्रेस टॉप जीन्स दिलवा देना. तब मैं बोला कि हाँ ले चल वह तो मेरी छोटी बेटी जैसी है. बस तेरी मम्मी राजी हो गई हैं, सोनू जैसा प्लान हुआ था, वह सब हो जाएगा. तेरी मम्मी को भी रंगे हाथों चुदते हुए तुझे तेरे सामने ला दूंगा. तू अचानक सामने आ जाना.
फिर सच में सब वैसा ही हुआ. अब मैं आज इस सत्य घटना की पूरी सच्चाई को यहीं पर रोकती हूं. इस सत्य घटना को अभी यहीं तक लिख सकी हूं.
मौसी के यहाँ अगले पन्द्रह दिन के हर एक पल बहुत रोमांचक रहे, मैं 15 दिन तक अपनी सगी मौसी के घर पर रही. उन 15 दिन में ये इत्तेफाक की बात है कि 15 मर्द मुझे मिले, उनमें से आठ मर्द साठ साल के ऊपर के बुड्ढे थे और चार मर्द मेरे बहुत क्लोज रिश्तेदार थे, जो 40 से 60 वर्ष के बीच के थे. बस तीन लड़के जवान थे, जो 30 वर्ष के नीचे थे. उनमें मेरी सगी मौसी का लड़का लालजी भी है.
अगले पन्द्रह दिन में मुझे किस तरह से 15 मर्दों ने कहाँ कहाँ किस किस तरीके से मेरे जिस्म से खेले, किस तरह से इंज्वाय किया, सबने अपनी और मेरी हवश को जगाया और फिर कैसे खुद को और मुझे भी सेटिस्फाई किया.
यह सब कुछ किस किस ने किया और कैसे कैसे किया आप जान सकते हैं, मैं सब बता भी सकती हूं.. परन्तु यदि सभी आरएसएस के पाठक मुझे बोलेंगे कि संध्या आगे पन्द्रह दिनों की पूरी सच्चाई बताओ, तब मैं एक एक शब्द.. जो मेरे जीवन में उन 15 दिनों में घटा.. मैं गॉड की कसम, मम्मी की कसम खाकर कहती हूं कि सब सच सच बताऊंगी कि मेरे साथ सब कुछ कैसे हुआ. एक भी शब्द अगर मेरा झूठा हो, तो मुझे नर्क मिले.. मैं एक भी शब्द झूठ नहीं लिख रही हूं. उन 15 दिनों में ऐसा कोई दिन नहीं था, जिस दिन मेरे साथ सेक्स नहीं हुआ हो. शादी के दिन भी शादी के रात भी मेरे साथ इस तरह से हुआ कि आप लोग इमेजिन भी नहीं कर सकते. पर वे पन्द्रह दिन मेरे जीवन के अनमोल थे. आज भी मैं याद करती हूं तो रोमांचित हो जाती हूं. मैंने वहीं पहली बार अपनी मम्मी को भी चुदते हुए देखा था, जब दो अंकल उन्हें चोद रहे थे. मैं अचानक सामने आ गई थी. फिर किस किस तरह से सब मेरे साथ हुआ, अगर आप सब वह जानेंगे तो मैं सच बोल रही हूं आप पागल हो जायेंगे.. आप स्वयं पर कन्ट्रोल नहीं कर पायेंगे.
आज तक मुझे जिस भी मर्द ने देखा है, उनमें ऐसा कोई भी नहीं है, जिसकी नियत मेरे लिए खराब न हुई हो. ऐसे नजदीक के रिश्तेदार वो भी सत्तर सत्तर साल के बुड्ढे भी और बहुत करीब के रिलेटिव, उन तक ने मेरे साथ सोने के लिए अपनी कोशिशें करी हैं.
मेरा दावा है कि मुझे देखने के बाद कोई भी मर्द बर्दाश्त नहीं कर पाएगा ना खुद पर कंट्रोल कर पाएगा.. यह मेरा चैलेंज है और ये विश्वास भी है.
-  - 
Reply
09-05-2019, 02:25 PM,
#74
RE: Chudai Kahani मेरी कमसिन जवानी की आग
आगे अब आप लोग ही तय करेंगे कि मैं अपनी लाइफ का एक एक शब्द आपको बताऊं या नहीं.. और एक बात मैं हमेशा बोलती हूं कि यदि मेरी फोटो में भी मुझे कोई मर्द देखेगा न, तो वह अपने जीवन में किसी लड़की किसी और फीमेल की कल्पना भी नहीं करेगा. वह एक बार मुझसे जरूर मिलना चाहेगा. मुझे कोई परवाह नहीं, जितने दिन की जिंदगी है, मैं खुलकर जिऊंगी और जो मेरा मन करेगा वह करूंगी.
अभी मैं उन्नीस साल की युवती हूं परन्तु पिछली घटनाओं को याद करती हूं तो बहुत रोमांचित हो जाती हूं. मैं अपने जीवन में कभी भी एक शब्द भी झूठ नहीं बोली हूं.. ना ही कभी कोई संकोच किया है.. मुझसे झूठ फरेब करते नहीं बना.
इसलिए मैं अपनी कसम खाकर कहती हूं. कभी भी एक शब्द झूठ या बनावटी ना लिखा है.. और न ही कभी लिखूंगी. आप सभी पाठकों को विश्वास हो रहा हो या नहीं, मैं यह नहीं जानती. पर एक एक बात जो मैंने लिखा है वह घटना, वह सब.. मेरे साथ और मेरी जिंदगी में वैसा ही हुआ है. यह मैं गॉड की कसम और मम्मी की कसम खाकर कहती हूं.
मैं अपनी मम्मी को उनकी हर गंदी आदतों के बाद भी सबसे ज्यादा मानती हूं.. उनकी झूठी कसम नहीं खा सकती हूँ.
सच्चाई यही है जो मैं बता चुकी हूं. अगले 15 दिन मेरे कैसे गुजरे.. और मैंने किस तरह से इंज्वाय किया, शायद मेरे लाइफ के सबसे अच्छे दिन थे. इस वक्त में मैंने बहुत मस्ती की, हर पल को जिया और कई लोगों को खुश किया. उन 15 लोगों में दो-तीन छोड़कर बाकी 12-13 लोगों ने कम से कम मेरे साथ तीन, चार बार और कुछ दो-तीन लोगों ने पांच पांच छह छह बार इंज्वाय किया. बहुत मस्त दिन गुजरे और मेरा जो जिस्म है न.. वहीं से मेरा फिगर डेवलप होने लगा और बहुत अच्छे शेप पर आना शुरू हो गया था.
मेरी सभी सहेलियां और कुछ लेडीज सब कहने लगीं कि मौसी के यहाँ जाकर तो तू संध्या खिल गई है, तेरा सीना बड़ा हो गया.. तेरा फिगर अल्टीमेट हो गया है.. ऐसा क्या खिलाया तेरी मौसी ने या वहाँ कुछ तूने गुल खिलाया है.. कि तू माल बन गई है.
सच में उन लोगों ने मेरा बहुत ख्याल रखा और जब मैं वहाँ से आई थी तो मेरे अकाउंट में पैसे भी काफी डाल दिए थे. वापस में मैं गिफ्ट भी बहुत सारे लेकर आई थी.
यह राज सिर्फ मैं जानती हूं और थोड़ा बहुत मेरी मम्मी को शक है. मम्मी मेरी लालची बहुत हैं, यह सत्य है.. पर वह मुझे बहुत चाहती हैं. ये भी सत्य है कि मुझसे ज्यादा वह पैसों को मानती हैं. कुछ कुछ चीजें उनको समझ आ गई थीं, तब भी वह मुझे सब लोगों के साथ जाने देती थीं.
यही सच्चाई है
-  - 
Reply
09-05-2019, 02:25 PM,
#75
RE: Chudai Kahani मेरी कमसिन जवानी की आग
शादी से पहले पति के सामने चुत चुदाई


मेरी शादी दो साल पहले अप्रैल में मेरे ही नगर में ही हुई, मेरे पति का नाम राजन उर्फ़ राज है, उनकी उम्र 32 वर्ष है, मेरी उम्र अभी 22 वर्ष की है, जब शादी हुई थी तब मैं 20 वर्ष की थी, लालच में मेरी मम्मी उनका बंगला कार सब देखकर मेरी शादी ज्यादा उम्र के आदमी से कर दी. मेरे पति का काम अच्छा है इसलिए मम्मी ने लालच में कि मैं खुश रहूं और मेरी मम्मी को भी पैसा मिलता रहेगा और खास तौर पर उनका कच्चा गिरा हुआ घर बन जायेगा.
राज मेरे पति की एक शादी पहले हो चुकी थी और शादी के दिन से ही उन दोनों की नहीं बनी थी तो वे अलग अलग हो गए थे.

मैं दिखने में बहुत सुंदर हूं और स्लिम हूं. मेरा साइज़ है कमर-26, सीना-30 से थोड़ा ज्यादा, हिप्स-34, पर मैं सबके सामने बहुत शर्मीली स्वभाव की लड़की हूं जबकि अकेले में बहुत ही अलग खुली और बेहद सेक्सी! मैं जब किशोर अवस्था में थी तभी से मेरी मम्मी के फोन से किसी को भी फोन लगा देती थी अकेले में… और अगर वो मर्द होते थे तो फिर वो थोड़ी देर बाद मुझसे सेक्सी अजीब बात करने लगते! कई तो पचास साठ साल के बुजुर्ग होते थे और मैं उनका साथ देती थी; मुझे बहुत अच्छा लगता और मजा आता; जो मर्द गंदी बातें करते, उनका नम्बर मैं एक कापी में लिख लेती.
मेरा पढ़ने में बिल्कुल मन नहीं लगता था, बस सेक्स में ही ध्यान चला जाता. बड़ी मुश्किल से मैंने स्कूल पास किया और बार बार फेल होती रही.
हां यह सच है कि मेरी मम्मी बहुत लालची हैं, रुपयों को बहुत मानती है, वही स्वभाव मेरे में भी है, मेरी कमजोरी भी पैसा है.मम्मी कसम… मैं एक एक शब्द सही लिख रही हूं.
हमारा घर कच्चा है तो मेरी शादी के समय ही मम्मी ने मेरे होने वाले पति से बोली थी- हमारा घर पक्का बनवाने में दामाद जी मदद कर देना!उन्होंने हां कर दिया था क्योंकि वो मुझसे प्यार करते थे और मुझ पर फिदा थे.मम्मी मुझे सिखाया करती थी कि तुम्हारे ये पति जो भी बोले, वो सब करना… पर हर बात के पैसे मांगना. पैसे ही काम आते हैं, कुछ गिफ्ट भी दें तो बोलना इसके बदले मुझे पैसे दे दो. जब तुम्हें प्रेम करें… समझ रही हो न… तब भी तुम उनसे पैसे मांग लिया करना! और रुपए जोड़ना… बुरे वक्त में सिर्फ पैसा काम आता है.
और मम्मी बोली- शादी के बाद तुरंत ही मेरा घर बनवा देना, पति को पटा कर यहां एक रूम अपना भी बनवा लेना. वहां तुम्हारे पति जो बोलें, वो सब करना… कुछ गलत या सही नहीं होता, सब कर लेना, सब में हाँ करना और कुछ उल्टा पुल्टा करवायेंगे तो वो भी कर लेना, बस उसके ज्यादा पैसे ले लेना.
मैं मम्मी को बहुत मानती हूं, उन्हीं की बात मुझे सही लगती है और उन्हीं की बात मुझे समझ आती है.
अब आती हूं मेरी लालच और जिस्म की प्यास जो लगभग हर लड़की में होती है.
शादी के 45 दिन पहले ही मेरे होने वाले पति राजन मुझे एक एंड्रायड स्मार्टफोन ओप्पो का दे गये और उसे चलाना भी सिखाया, मैं बोली- इसमें वो गंदी वाली कहानियां और गंदी फ़िल्म भी आती हैं, वो मुझे बता दो कैसे आती हैं?वो मुझे बोले- तुम गूगल में जाकर सिर्फ xxx और इंडियन पोर्न टाइप करना, फिर जो वीडियो आये ध्यान से देखना, और बताया कि इसी में गंदी कहानी रहती है राजशर्मास्टोरीज टाईप करना फिर पढ़ना मज़ा आयेगा, तुम्हारा टाइम पास भी अच्छा होगा!मैंने कहा- ठीक है.
उन्होंने मुझे टाइप करके सब बता दिया. एकदम गन्दी फोटो आई, वीडियो आई तो मैं बोली- मैं देख लूंगी!और मोबाइल ले लिया.
चार दिन बाद मेरे होने वाले पति एक छोटा मोबाइल मम्मी के लिए भी लाये तो मम्मी बहुत खुश हो गई.मेरे होने वाले पति से मम्मी बोली- बेटा, आ जाया करो! तुम्हारा ही घर है!और मम्मी बोली- मैं जा रही हूं घर से बाहर काम से… आप बेटा बात कर लो सोनू से!
मेरे से मम्मी बोली- नाटक मत करना सोनू… और अच्छे से बातचीत करना, जिसमें उन्हें खुशी मिले उसके लिए मना मत करना!और मम्मी बाहर से गेट बंद कर के चली गई.
तभी मेरे होने वाले पति मेरे पास आये और बोले- मोबाइल में क्या देखा रानी?मैं बोली- कुछ नहीं!जबकि मैं सब देखने लगी थी. पोर्न वीडियो देख कर मेरी हालत खराब हो जाती है, आरएसएस पर सेक्सी कहानियां भी चार पांच पढ़ी थी.
तभी राज ने मोबाइल पर एक इंडियन पोर्न वीडियो निकाल कर लगा दिया जिसमें एक लड़की बहुत स्लिम मेरी तरह और तीन बहुत लम्बे चौड़े काले नीग्रो… तीनों ने लड़की के कपड़े उतार दिए और अपने भी मैंने आंखें बंद कर ली.तभी राज बोले- संध्या मेरी रानी, तुम्हें मेरी कसम… प्लीज पूरा वीडियो देखिए मेरे साथ!
मैं कसम कैसे तोड़ती, आंखें खोल दीं मैंने और देखने लगी, तब लड़की की उस xxx वीडियो में वो नीग्रो उसकी टांगें फैला कर चूत चाटने लगे और लड़की दो नीग्रो जो बचे थे उनके लन्ड अपने मुंह में बारी बारी से चाटने लगी. मेरी हालत अब थोड़ा बिगड़ने लगी कि तभी राज बोले- इधर तख्त पर आइये!
अब हम दोनों तख्त पर चले गये.उन्होंने बोला- लम्बा वीडियो है, चलो लेट कर देखते हैं.खुद लेट गए, मैं भी बगल से लेट गई, वीडियो में लड़की की टांगें ऊपर करके दो लोग चाट रहे थे आगे और पीछे!
तभी अचानक राज ने मेरे ऊपर एक हाथ अपना और एक टांग रख दी, मैं नहीं मना कर पाई, थोड़ी देर में उनकी सख्त चीज मेरे जांघ में चुभने लगी, मुझे पता चला कि यह राज का लंड है, इतने में पीछे से मेरी लैगी के अंदर अपना हाथ डाल दिया और मेरी पीछे कूल्हों को सहलाने लगे पैंटी के ऊपर से ही!कोई मर्द छुये तो कोई भी लड़की गर्म हो जाती है.
मोबाइल जिसमें वीडियो चालू था उसे उठा लिया और राज मुझे बोले- संध्या, सीधी लेट जाओ!मैं जैसे सीधी हुई, उनका हाथ अब मेरे सामने जांघ में पैंटी के ऊपर से ही सीधे मेरे चूत के ऊपर फूली हुई जगह में रख गया और वो मेरे वहीं पर अपना हाथ चलाने लगे. इससे मुझे कुछ कुछ होने लगा.
-  - 
Reply
09-05-2019, 02:26 PM,
#76
RE: Chudai Kahani मेरी कमसिन जवानी की आग
तभी एकदम से पेंटी के ऊपर से बुर की लकीर में अपनी एक उंगली डाल दी, मेरे मुंह से सिसकारी निकल गई.तब उनको शायद समझ आ गया कि मैं गर्म हो चुकी हूं, वो मेरी लैगी उतारने लगे. मैं रोकने लगी, बोली- कोई आ जायेगा. शादी के बाद खुल कर करेंगे, फिर आपकी हूं!तभी वो बोले- संध्या, वो अंदर नहीं डालूंगा, वादा! बाकी सब करने दो थोड़ी देर, जल्दी कर लूंगा, मेरी कसम आपको!
मैंने उनका हाथ छोड़ दिया, तभी सीधे मेरी लैगी उतार दी, नीचे सिर्फ पैंटी में थी मैं… मुझे देख कर वे बोले- कितना लकी हूं मैं! क्या मस्त हो यार!और पैंटी के ऊपर से ही चूत को चूमने लगे.अब जो xxx वीडियो चल रहा था, उसे बंद कर दिया और मेरे उपर चढ़ गये और मेरे मुंह में अपने मुंह को लाकर मेरे होठों को लिप किस किया. उनकी सांसों की गर्मी और मेरे सांसों की गर्मी टकरा रही थी और उनका लन्ड मेरी चूत में पैंटी के ऊपर से ही चुभ रहा था.राज का सीना मेरे सीने में रखा था.
तब करीब दस मिनट मेरे होठ चूसे और अंदर जीभ डाल कर जीभ को भी चूसा राज ने… मेरी हालत बहुत खराब हो रही थी, मैं बोली- टेलीविजन की बटन आन कर दीजिए, नहीं तो कोई कुछ आवाज सुने तो गलत ना समझे!उन्होंने टीवी आन करके म्यूजिक चैनल लगा दिया.मैं बोली- सांउड तेज कर दो!उन्होंने कर दिया.
अब वो अपना पैंट खोलने लगे, मैं बोली- आपने वादा किया है कि डालोगे नहीं!तो राज बोले- वादा निभाऊंगा… पर बाकी आज और कुछ ना छोड़ूंगा!मेरे से बोले- आज कुछ भी मन हो खुल कर गंदा से गंदा बोलूंगा, बुरा नहीं मानना और तुम भी बोलना जितना भी… इसमें खुल कर बातें करेंगे, उतना इंजवाय होता है.
मैं बोली- ठीक है, नहीं मानूंगी बुरा… बोलिए जो मन हो!आप तो जानते हो कि मुझे गालियां और गंदी बातें बहुत पसंद हैं और मुझे बहुत जोश आता है.
तभी देखते देखते राज ने अपने पूरे कपड़े उतार दिए. अब अंडरवियर भी उतार दी तो मैंने थोड़ी शरमा कर आंखें बंद कर ली.राजने में मेरा एक हाथ पकड़ कर अपने लन्ड पर रखवा दिया. उनका लंड एकदम गर्म था.
राज मुझसे बोले- संध्या मेरी जान, आंखें खोल दीजिए!मैंने आंखें खोली तो वो अपनी दोनों टांगें मेरे उपर इधर उधर किया हुए थे, सामने मेरे हाथ में लंड देख कर एकदम अलग फीलिंग आई, मैं लंड को देखे जा रही थी.तभी मेरे होने वाले पति राज बोले- क्या रानी, यही सोच रही हो न कि छोटा है? पर इंडिया के लोगों का इतना ही छोटा होता है.मैं समझ गई कि ये झूठ बोल रहे हैं, मैंने रास्ते में कई मर्दों का पेशाब करते हुए देखा था पर उनका लन्ड बड़ा है, और सीड जो मेरा ब्वाय फ्रेंड है उसका लंड बहुत बड़ा है.
राज का लंड 6 इंच से थोड़ा ज्यादा बड़ा था, पर कड़क था.वे मुझे बोले- थोड़ा इसे रगड़ो!मैं रगड़ने लगी.
तभी वो मेरी कुर्ती को धीरे धीरे उतारने लगे. जैसे ही मेरी नाभि के ऊपर कुर्ती गई, नाभि पेट नंगी हुई, वो पागल से होकर नाभि को चूमने चाटने लगे, मुझे कुछ-कुछ होने लगा और मैं उनके नाभि को किस करने के तरीके से पागल होने लगी.तभी वो बोले- संध्या, किसी हिरोइन की भी इतनी सेक्सी नाभि नहीं है. तुम्हें तो हर मर्द चोदना चाहेगा!
यह बात उनके मुंह से मुझे अच्छी लगी, मैं बोली- क्या बोले?तो वो बोले- हर लड़की का मन करता है कि अलग अलग मर्द या एक साथ दो तीन चोदें!मैं झूठ मूठ बोली- मुझे यह पसंद नहीं!
तभी राजन बोले- झिझको नहीं, मुझसे खुल जाओ, तभी बहुत लाइफ इंजॉय करोगी. अच्छा यह बताओ कि अभी जो xxx पोर्न वीडियो में एक लड़की को तीन मर्द चोद रहे थे, तुम्हें पसंद नहीं आया क्या? मेरी कसम… सच बोलना आज!मैं बोली- हर बात में कसम दे देते हो?आगे मैं बोली- हां, पसंद आया! पर ये फिल्म में होता है रियल में थोड़ी! मैंने अभी जबसे मोबाइल आपने दिया और मैंने पोर्न वीडियो देखे, ज्यादातर वीडियो में लड़की एक और मर्द चार पांच होते हैं. पर वो सभी विदेशी हैं. हां, कुछ में लड़की इंडियन जरूर थी.
तभी राज ने मेरा मोबाइल लिया और टाइप किया गूगल में ‘इंडियन एमएमएस थ्रीसम’और फिर मुझे दिखाने लगे, बोले- ये सब रियल हैं, सच में स्कूल गर्ल, कालेज गर्ल, मैरिड वुमन सब एक साथ दो, तीन, चार, पांच मर्दों से एक साथ चुदाई करवाती हैं.मैं बोली- सच में? यार ये तो गजब है! इंडिया में भी फारेन जैसे होने लगा?
राज बोले- अब सच बोलना, नहीं कसम दे दूंगा.मैं बोली- प्लीज कसम मत देना, हमेशा सच बोलूंगी… पर एक शर्त पर कि अगर कुछ भी खराब बोल दूं गन्दी गन्दी बातें भी… तो बुरा नहीं मानना और मुझे डांटना ना हो.राज बोले- अगर ये भी बोल दो कि तुम एक साथ पांच छः मर्दों से एक साथ कई बार चुदवा चुकी हो और आगे भी चुदवाओगी तो भी मैं बुरा नहीं मानूंगा, ना डाटूंगा और फिर भी शादी हर हाल में तुमसे ही करूंगा… कसम से मम्मी कसम!मैं बोली- ग्रेट यार… इतनी पसंद आ गयी मैं! पर आपको बता दूं आज मेरी लाइफ में आप पहले मर्द नहीं हो जिसने मुझे इस तरह छुआ है और जिसके साथ लेटी हूं. जो आप पूछना चाहते हैं तो वो भी सब बता दूं कि अभी जब से मोबाइल में ये सब देखने लगी हूं तो सच में उस तरह के पोर्न वीडियो देख कर लगता है कि तीन चार लोग मुझे भी चोदें! सच यही है.


मेरी हॉट सेक्स स्टोरी में एक एक घटना सत्य है, पागलपन से भरी है, ऐसा कि कोई सोच नहीं सकता है. जो कोई सोच नहीं सकता है, उसे मैं कर चुकी हूं. आप जानेंगे तो मदहोश होकर पागल हो जायेंगे, खुद पर कंट्रोल नहीं कर पायेंगे… और मुझे देखने के बाद तो आप रह ही नहीं पाओगे! यह दावा है मेरा! ....संध्या
-  - 
Reply
09-05-2019, 02:26 PM,
#77
RE: Chudai Kahani मेरी कमसिन जवानी की आग
तभी राज ने मेरा मोबाइल लिया और टाइप किया गूगल में ‘इंडियन एमएमएस थ्रीसम’और फिर मुझे दिखाने लगे, बोले- ये सब रियल हैं, सच में स्कूल गर्ल, कालेज गर्ल, मैरिड वुमन सब एक साथ दो, तीन, चार, पांच मर्दों से एक साथ चुदाई करवाती हैं.मैं बोली- सच में? यार ये तो गजब है! इंडिया में भी फारेन जैसे होने लगा?
राज बोले- अब सच बोलना, नहीं कसम दे दूंगा.मैं बोली- प्लीज कसम मत देना, हमेशा सच बोलूंगी… पर एक शर्त पर कि अगर कुछ भी खराब बोल दूं गन्दी गन्दी बातें भी… तो बुरा नहीं मानना और मुझे डांटना ना हो.राज बोले- अगर ये भी बोल दो कि तुम एक साथ पांच छः मर्दों से एक साथ कई बार चुदवा चुकी हो और आगे भी चुदवाओगी तो भी मैं बुरा नहीं मानूंगा, ना डाटूंगा और फिर भी शादी हर हाल में तुमसे ही करूंगा… कसम से मम्मी कसम!मैं बोली- ग्रेट यार… इतनी पसंद आ गयी मैं! पर आपको बता दूं आज मेरी लाइफ में आप पहले मर्द नहीं हो जिसने मुझे इस तरह छुआ है और जिसके साथ लेटी हूं. जो आप पूछना चाहते हैं तो वो भी सब बता दूं कि अभी जब से मोबाइल में ये सब देखने लगी हूं तो सच में उस तरह के पोर्न वीडियो देख कर लगता है कि तीन चार लोग मुझे भी चोदें! सच यही है.

इतना सुनते ही राज ने मेरी कुर्ती उतार फेंकी और मुझसे लिपट गये, बोले- बहुत सेक्सी हो यार! थैंक्यू… मुझे ऐसी ही पार्टनर चाहिए! अब संध्या खुल के गन्दा बोलो! मेरा ऐसे ही साथ देना! अगर कभी तुम्हारा बहुत मन किया तो तुम तीन चार मर्द से चुदवा लेना.
मैं बोली- सच राज?वे बोले- सच में!मैं बोली- आपको बुरा तो नहीं लगेगा?राज बोले- कसम से बुरा नहीं लगेगा! आप खुश हो और मजा आये आपको… आप सेटिस्फाई हों, मुझे इसमें खुशी मिलेगी.मैं बोली- थैंक्यू… पर आपके लिए मैं कुछ भी करूंगी, पर खुद से ऐसा कुछ नहीं करूंगी; अगर किन्ही मर्दों से करवाया या करवाने का मन किया तो आपसे बता दूंगी.राज बोले- पर अपन बातों में कल्पना डाल दो… तीन मर्द को सोच के सब करेंगे तो उससे जोश बढ़ता है.मैं बोली- ओके!
अब राज ने मेरे बूब्स ब्रा को ऊपर से ही दबा दिया, मुझे मस्त लगा, मैं बोली- ये मेरे छोटे हैं अभी मेरी सहेलियों से!राज बोले- मस्त हैं सेक्सी… इन्हें मैं दबा दबा के बड़ा कर दूंगा. अभी भी बहुत मस्त हैं.
अब मैं उनके सामने ब्रा पैन्टी में लेटी थी और वो भी पूरे नंगे थे, मुझे बोले- अब तू तड़ाक में बात करो! जब भी ये पल हों जानवर बन जायेंगे दोनों! फिर सेक्स के बाद नार्मल लाइफ वही आप!मैं बोली- ओके!मुझे अब वो गंदी बातें बोलने लगे, बोले- फुल रंडी लगती हो सेक्सी!और मेरी पैंटी उतार दिये और सीधे मेरी दोनों टांगों को फैला कर चौड़ा कर दिया सबसे पहले मेरी चूत में किस किया और बोले- तेरी चूत तो बह चली है, बहुत चुदासी है तू साली! फिर मना क्यूं कर रही है?मैं बोली- मैं तेरा लौड़ा अन्दर सुहागरात में ही लेना चाहती हूं.
तभी एकदम जोश में आकर राज अपनी पूरी जीभ मेरे चूत में डाल कर जोर जोर से चूसने और चाटने लगा; मैं छटपटाने लगी और ऊं हहह वोहह हहह आहहह की आवाज जोर जोर से मेरे मुंह से अपने आप निकलने लगी. ये मेरे साथ फर्स्ट टाइम था, तब भी मेरे मुंह से अपने आप गन्दी बातें निकलने लगी, मैं बोली- ओहह हहह कुत्ते और चाट… बहुत मस्त चाटता है चूत… कितनों की चाटी है?तभी राज उठा और मेरी ब्रा को जोर से खींचा ब्रा फट गई, मैं अब पूरी नंगी हो गई.राज बोला- पूरी छिनाल लगती है तू संध्या… क्या मस्त माल है तू!
मैं बोली- अपनी रंडी को कितना दोगे?तभी राज ने पर्स निकाला और पांच सौ के करीब दस बारह नोट मेरे ऊपर फेंक दिये और बोला- यार बहुत मज़ा आयेगा अब! तुम मेरी असली रंडी लग रही हो नोटों के ऊपर… बोल अब तेरी नथ उतार दूं? बता चुदेगी ना?मैं बोली- इतना तो मुझे छूने का लगता है, बीस हजार लूंगी चुदाई का!राज बोले- वाह मेरी रंडी, बड़े भाव हैं तेरे साली?तभी मैं बोली- नथ तो मेरी दस बारह बार उतर चुकी है.
मैं बोली- अंदर से भी गेट बंद कर दो, कहीं मम्मी ना आ जायें!पर वो नहीं गये, राज बोले- मम्मी को सब पता है, वो नहीं आयेंगी.मैं बोली- अरे मम्मी ऐसे ही कुण्डी दे गई होगी, कहीं कोई और आ गया तो?राज बोले- आने दो… अब हम मियां बीवी बनने वाले हैं. क्यूं डरें किसी से?
वो नहीं गये बंद करने गेट अंदर से!
और अब सीधे मेरे चूत को फैला कर अपनी जीभ से चाटने लगे; जोर जोर से चूसने लगे और दोनों हाथों से मेरे दूध दबाने लगे. मैं बिल्कुल तड़पने लगी; मुझसे रहा नहीं जा रहा था; मेरे मुंह से अपने आप आवाज निकालने लगी- ऊंहहह आहहहह… मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा! कुत्ते क्या कर दिया!टीवी की आवाज़ तेज थी इसलिए आवाज वहीं रुक गई.
-  - 
Reply
09-05-2019, 02:26 PM,
#78
RE: Chudai Kahani मेरी कमसिन जवानी की आग
इतने में मुझे लगा कि जैसे परदा हिला हो!मैं बोली- कोई आया क्या?राज ने मुड़ कर देखा, बोले- कोई नहीं… तू खुद डरती है और मुझे भी डरा रही है, इससे मूड बदल जाता है, कोई आता है तो आने दे अब, बस आज तेरी चूत को खा जाऊंगा.और पूरी चूत मेरी मुंह में भर लिया.
मैं बिल्कुल नंगी तड़पने लगी; मुझसे सच में अब बर्दाश्त नहीं हो रहा था; मैं अपने आप अपनी कमर उछालने लगी और अपनी चूत उठा उठा कर चटवाने लगी और बोली- ओहहहहह मेरे राजा… मार डालोगे क्या? ये क्या कर दिया? कौन सी आग लगा दी? मुझसे रहा नहीं जा रहा है… हहह!
इतने में मुझे कुछ मोबाइल सा दिखा परदे के पीछे… पर इस बार उनके संकोच में नहीं बोली कि वो बोलें ना कि अच्छे खासे मूड़ को डिस्टर्ब कर रही है.मैंने सोचा जाने दो!
और इतने में राज ने मेरी चूत में अपनी उंगली डाल दी, मैं उछल गयी और जोर से उनका लन्ड पकड़ लिया.वो बोले- देखना साली, तू आज खुद बोलेगी कि मेरी चूत में लंड डाल दो अपना!तो मैं बोली- यह नहीं होगा… चाहे मेरी जान निकल जाए! बस मैंने सोच लिया कि चाहे सबसे चुदाई करवाती रहूं नहीं रहा जायेगा तो… पर तुझसे सुहागरात के दिन ही चुदवाऊँगी.
तभी राज बोले- ऐसी भी क्या जिद है? चलो देखता हूं, कैसे अभी रह पाओगी बिना मेरा लोड़ा घुसवाये!मैं बोली- देख लो, आजमा लो, पागल तो मुझे कर ही दिया है!
उसी समय फिर एक हाथ से मेरे नंगे बूब्स दबाने लगे, एक हाथ से चूत में अपनी उंगली डाल दी, राज को मुझे तड़पाने में बहुत मजा आ रहा था.फिर वो उठे, मेरे सीने के अगल बगल दोनों टांगें करके मेरे बूब्स को दोनों हाथों से जम के पकड़ लिया और फिर अपना लन्ड मेरे बूब्स के बीच में घुसा दिया और थूक लगा के लंड से बूब्स को चोदने लगे.
अब सच में मेरी हालत बहुत खराब होने लगी, तभी मुझे लगा कि लगता है राज से चुदवा लूं… नहीं पागल कर देंगे.राज दस मिनट बूब्स चोदने के बाद फिर बोले- अब बता कुतिया… चोदूं तेरी चूत?मैं बोली- नहीं… पर मुझसे अब रहा नहीं जा रहा है!
अब वो मेरे मुंह के सामने अपनी टांगें फैला कर बैठ गये और अपना लन्ड पहले मेरे गालों पर रगड़ा, फिर मेरी नाक में डालने लगे, बोले- तुमसे सेक्सी नाक इतनी सुंदर किसी की नहीं है.और बहुत ही अजीब पर नशीली खुशबू लंड की नाक में घुस गयी.
तभी राज बोले- मेरी रंडी कुतिया, चाटो चूसो मेरे लौड़े को!और मेरे होंठों पर अपने लन्ड को रख दिया.
मैंने मना किया कि प्लीज ये मत करवाओ मुझसे!तो राज बोले हर लड़की का ये ड्रीम होता है कि उसे मस्त लन्ड चूसने को मिले! और तू कैसी बात कर रही है, कौन सा मेरा पहली बार चूस रही है, ले साली चूस!और मेरे होठों पर लन्ड को रगड़ने लगे.
जैसे ही लंड मेरे होठों को रगड़ा, उसके टच करने से गरम गरम उसकी छुअन से मुझे बहुत मस्त अजीब सा लगा और मैंने अपने हाथ से उसका लन्ड पकड़ कर मुंह में भर लिया और चूसने लगी लन्ड!राज का लन्ड बहुत बड़ा नहीं है इसलिए आराम से मुंह में पूरा घुसा दिया और मैं चूसने लगी, चाटने लगी.
जाने क्या हुआ कि मेरी आंखें बंद होने लगी और राज तो जैसे पागल होने लगे, फुल जोश में आ गए और मुझे बहुत गंदी गालियां देने लगे- और चूस रंडी… ले मेरे लंड को… तू साली पूरी छिनाल है… तुझे एक साथ कई लंड चोदेंगे, तब तेरी प्यास बुझेगी!उसकी ये बातें मेरे जोश को और बढ़ा रही थी.
तभी मेरी आंखें बंद हो गई, बस मैं उसका लन्ड चूसे जा रही थी और राज तो कांपने लगा और लन्ड रगड़ने की स्पीड फुल बढ़ा दी और उसकी भी आंखें बंद हो गई थी. मेरे दिमाग ने काम करना बंद कर दिया था, लगा कि अब जम के राज चोद दे!अगर अब बोलता कि ‘चोद दूं’ तो मैं हां बोल देती अब!
करीब चार पांच मिनट बाद राज ने मेरी चूत में उंगली घुसा दी, वो एकदम बह रही थी, उंगली जैसे अंदर बाहर चूत में हुई, मैंने अपनी टांगें फैला दी और ऊपर कर ली दोनों टांगें कि राज समझ जाये कि मैं चुदाई करवाने के लिए पूरी तैयार हूं.मैं इतने जोश में थी कि जरा भी दिमाग न लगाया कि राज तो मेरे मुंह में टांगें फैला कर अपने लन्ड से चोद रहा है मुंह को मेरे, फिर उसका हाथ वहां चूत में कैसे जायेगा.
पर मेरी चूत में उंगली अंदर बाहर हो रहा थी और मैं आंखें बंद कर के फुल जोश में राज का लन्ड चूसे जा रही थी.कि तभी अचानक बिजली की स्पीड से एकदम मेरी चूत में एक बहुत बड़ा सा सख्त मोटा कुछ बहुत तेजी से पूरे जोर ताकत से एक झटके में मेरी चूत को फाड़ता हुआ अन्दर घुस गया. ऐसा लगा, इतना दर्द हुआ कि मैं बेहोश सी हो गई, मेरे मुंह में राज का लन्ड घुसा था तो मुंह से आवाज भी नहीं निकली और राज इतने जोश में था कि बस लंड से मेरे मुंह को चोदे जा रहा था.
टीवी की आवाज़ तेज थी जिससे कोई आवाज ही नहीं आयी, मेरी आंखों से आंसू बहने लगे और राज को देखा तो वो अपनी आंखें बंद किये फुल जोश में पसीना पसीना हुआ जा रहा था. मेरे हाथ भी कंधा भी राज की टांगों के नीचे दबा था, मैं बेबस मुंह से गूं-गूं की आवाज निकाली और आंसू की धार बह चली. इतना दर्द कि लगा मर जाऊंगी!
उधर अब बिल्कुल समझ आ गया कि कोई मेरी चूत को चोद दिया और जो भी है उसका लन्ड बहुत बड़ा है.मेरा होने वाला पति गधा मेरे मुंह को चोदने में मदहोश है, उधर नीचे मेरी अब कोई दोनों टांगें पकड़े पूरा फैलाये मेरी चूत में अब धक्के लगाये जा रहा था और मेरी चूत फ़ाड़ दी. बहुत असहनीय दर्द उसके हर बार लंड अंदर बाहर घुसाने में हो रहा था.
मुझे अब तक ये नहीं पता चला कि मेरी चूत को चोद कौन रहा है और वह इतनी सावधानी बरत रहा था कि उसका बदन कैसे भी राज को टच ना हो.होती भी कैसे राज मेरे मुंह में चढ़ा था तो उसका पूरा शरीर मेरे कंधे से ऊपर मुंह के पास था और जो मेरी चूत को चोद रहा था, उसका पूरा लौड़ा अन्दर और वो दोनों टांगों के बीच में यानि मेरे कमर के नीचे था.अब जो मेरी चूत चोद रहा था, वो लन्ड अन्दर बाहर करने के साथ साथ मेरे दोनों बूब्स भी जोर जोर से दबाने लगा.
मुझे राज के ऊपर बड़ा गुस्सा आता, जो मेरे हाथ कंधे सब दबाये मेरे मुंह में लंड डाले उल्लू की तरह गधा साला मुंह में मेरे लन्ड डाले पागल है, मुझे दो तीन बार लगा था कि कोई है… परदा हिला था, मोबाइल भी थोड़ा चमका था, मैं बोली भी थी कि लगता है कोई है.पर राज बेवकूफ ने हर बार मुझे चुप करा दिया कि तुम फालतू में डर रही हो, मूड खराब कर रही हो.
मैं ये भी बोली थी कि ‘अंदर से भी बंद कर लो’ भले ही मम्मी बाहर से कुंडी लगा दी है.पर राज ने कोई एक बात नहीं मानी मेरी, उसी का परिणाम कि शादी राज गधे से होने वाली है और मेरी चूत उसके मौजूदगी में कोई और चोदे जा रहा है.
-  - 
Reply
09-05-2019, 02:26 PM,
#79
RE: Chudai Kahani मेरी कमसिन जवानी की आग
कहानी के पिछले भाग में आपने पढ़ा कि कैसे मेरी लालची माँ मेरे होने वाले पति के साथ हम दोनों को अकेले घर में छोड़ कर चली गयी.मेरे पति ने मेरी कामुकता जगा कर मुझे नंगी कर लिया. मेरे होने वाले पति मेरी छाती पर बैठ कर मेरी चूचियां चोद रहे थे कि मेरी चूत में कुछ लंबा मोटा सा घुस गया.
मुझे अब तक ये नहीं पता चला कि मेरी चूत को चोद कौन रहा है और वह इतनी सावधानी बरत रहा था कि उसका बदन कैसे भी राज को टच ना हो.होती भी कैसे राज मेरे मुंह में चढ़ा था तो उसका पूरा शरीर मेरे कंधे से ऊपर मुंह के पास था और जो मेरी चूत को चोद रहा था, उसका पूरा लौड़ा अन्दर और वो दोनों टांगों के बीच में यानि मेरे कमर के नीचे था.अब जो मेरी चूत चोद रहा था, वो लन्ड अन्दर बाहर करने के साथ साथ मेरे दोनों बूब्स भी जोर जोर से दबाने लगा.
मुझे राज के ऊपर बड़ा गुस्सा आता, जो मेरे हाथ कंधे सब दबाये मेरे मुंह में लंड डाले उल्लू की तरह गधा साला मुंह में मेरे लन्ड डाले पागल है, मुझे दो तीन बार लगा था कि कोई है… परदा हिला था, मोबाइल भी थोड़ा चमका था, मैं बोली भी थी कि लगता है कोई है.पर राज बेवकूफ ने हर बार मुझे चुप करा दिया कि तुम फालतू में डर रही हो, मूड खराब कर रही हो.
मैं ये भी बोली थी कि ‘अंदर से भी बंद कर लो’ भले ही मम्मी बाहर से कुंडी लगा दी है.पर राज ने कोई एक बात नहीं मानी मेरी, उसी का परिणाम कि शादी राज गधे से होने वाली है और मेरी चूत उसके मौजूदगी में कोई और चोदे जा रहा है.

करीब पांच से सात मिनट हो गये लगभग उसे मेरी चूत को चोदते हुए अब बूब्स भी दबा रहा था न जाने ऐसा क्या हुआ कि वो पूरा का पूरा असहनीय दर्द जिससे लगा कि मैं मर जाऊंगी, वो सारा का सारा दर्द एक दम से जाने कैसे गायब हो गया, और अब मैं फिर जाने किस नशे में खोने लगी कि मुझसे अब बिल्कुल रहा नहीं जा रहा था, बस यही लग रहा था कि वो जो भी हो मेरी चूत में और जम के धक्के मारे और फाड़ दे जितनी ताकत हो उतनी पूरी ताकत से चोदे!मैं मम्मी कसम एक एक शब्द पूरा सच बता रही हूं.
एक लंड राज का मेरे मुंह में घुसा है और एक लन्ड उसका जिसको अभी देखा भी नहीं, उसका लन्ड मेरी चूत की बहुत मस्त चुदाई कर रहा है. मैं उससे लिपट जाना चाहती थी जो मेरी चूत को चोद रहा था.तभी एकदम से राज अकड़ने लगा और अपने हाथ से मेरे बाल पकड़ कर जोर जोर से अपने लंड से मेरे मुंह को चोदते हुए, मेरे मुंह में ही अपने लन्ड का पूरा रस भर दिया और बोला- तू एक नम्बर की मस्त साली रण्डी है रियल की, तूने मस्त कर दिया.
और फिर उठा और जैसे उठा वो और मुड़ा, मैंने देखा कि ये तो कमीना सीड है जिसने मुझे जून 2013 में अपनी मामा की शादी में पटा लिया था, वो मेरे नगर से तीस किलोमीटर दूर तपा गांव का रहने वाला है,जब मुझे उससे प्यार हुआ तब वह सागर पालिटेक्निक से डिप्लोमा कर रहा था और तभी मेरे नगर में अपने मामा के यहां अपने मामा की बेटी की शादी में मुझे दो बार प्रपोज भी किया और मैंने उसको हां भी कर दिया था और उससे बात भी करने लगी थी.फिर किसी बात पर हम लड़ कर अलग हो चुके थे लेकिन लड़ाई होने से पहले उस दौरान सीड मुझे चार पांच बार चोद चुका था.
आज उसने अपनी चाह फिर से पूरी कर ली मुझे चोद कर, राज पीछे मुड़ते ही जैसे देखा कि वो मेरी चूत को चोद रहा है. बिल्कुल गुस्से में आग बबूला होकर सीड से लिपट गया और गालियां देने लगे- मार डालूंगा तुझे, मेरी होने वाली बीवी की तूने कुत्ते चूत को चोदा!
दोनों मार पीट करने लगे, राज सीड को नहीं पहचानता था और सीड राज को नहीं जानता था. इसी बीच मैंने पास पड़ा तौलिया उठा कर अपनी नंगी चूत को परदे में कर लिया था.
सीड बोला- हरामी साले, तेरी बीवी होने वाली है, अभी हुई तो नहीं… अभी जितनी तेरी है उतनी सबकी है, उसे दिक्कत नहीं जिसे चोदा तू कौन होता है बे रोकने वाला, और तू जान ले जब ये स्कूल में थी तब से मैं इसका ब्वायफ्रेंड हूं और ये मेरी गर्लफ्रेंड है. आज से पहले पांच बार इसे चोद चुका हूं समझे, अभी चार महीने से मेरी लड़ाई चल रही है इससे बात नहीं हो रही मेरी इसीलिए आया था कि इससे माफी मांगूंगा और जमकर चोदूंगा, इसके जैसा बिस्तर पर कोई लड़की नहीं हो सकती. पर चार महीने मैं दूर रहा तो इस कमीनी ने तुझे फंसा लिया! बिना चुदे तो यह रह नहीं सकती, बहुत कमीनी है ये… इसके चक्कर में तू बर्बाद हो जाएगा. पहले सुन… तेरी पूरी वीडियो बना ली है, पर्दे के पीछे से फोटो भी खींची है. सबको दिखाऊँगा और बताऊंगा तेरे कारनामे… तू शादी का बोल के संध्या की चुदाई करता है. देख ले ये फोटो देख!
-  - 
Reply

09-05-2019, 02:27 PM,
#80
RE: Chudai Kahani मेरी कमसिन जवानी की आग
उसने जैसे ही अपने मोबाइल में फोटो दिखाई, उस फोटो में राज जीभ निकाल कर मेरी चूत चाटने में लगा है.
फोटो देखते ही राज के तेवर ढीले पड़ गए और एकदम से सीड को सॉरी बोलने लगा, बोला- माफ़ कर दे भाई… प्लीज ये फोटो डीलिट कर दे, मुझे मारना है, मार ले, गाली देना है, गाली दे ले… पर प्लीज ये फोटो डीलिट कर दो.सीड बोला:मैं डिलीट कर दूंगा, मुझे कोई दिक्कत नहीं पर पहले संध्या को जी भर के चोदूंगा, उसके बाद तुरंत डीलिट कर दूंगा.पिछले चार साल से जब भी आता हूं अपने गांव तपा तब कोटर आके या इसे सतना बुला कर जम के चोदता हूं और जिस दिन तक लौट के नहीं आता हूं तब तक संध्या को याद कर कर के दिन में दो तीन बार मुट्ठ मारता हूं.आज तुम्हारी वजह से चोदने को मिला, मैं यह सोचता था कि संध्या सबसे चुदाई करवाती है बस मुझे उल्लू बनाती है.जितने यहां के लड़के और बड़े उम्र के आदमी जब संध्या की बात करते हैं तो सब इसे एक नम्बर की रंडी या छिनाल ही बोलते हैं. पर गजब है यार इतनी सेक्सी लड़की जिस जिस को मिली होगी, उसकी तो किस्मत बन जाती है.और मैं तो बस इसे चोदने के लिए पागल था, ऐसे घर आया कि संध्या को देखूंगा फ़िर घर जाकर इसके नाम से मुट्ठ मारूंगा आया तो बाहर से सांकर दरवाजा पे चड़ी थी मैं वापस जाने लगा कि अंदर टीवी की आवाज़ सुनाई दी गाने की तेजी से, मैं रूक गया मैं सोचा अंदर संध्या होगी कोई गलती से सांकल गेट पर चढ़ा गया होगा.मैंने सांकल खोला और आवाज भी लगाई ‘कोई है?’ पर जब कोई नहीं बोला तो अंदर आया तो इस रूम में बाहर रूका तब टीवी की आवाज़ तेज थी पर लड़के की आवाज सुनाई दे दी.तभी मैं एलर्ट हो गया कि कुछ गड़बड़ी है, वैसे भी संध्या यहां की बहुत फेमस आइटम है, किसी ना किसी को फंसा के ये रखती है, संध्या भले उम्र में कम कम है पर बहुत चालू आइटम है.और फिर धीरे से परदे के पीछे से जो नजारा दिखा उसे देखकर तो मैं पागल हो गया तब तुम संध्या की पैंटी उतार रहे थे और जैसे तुम संध्या की चूत चाटने लगे मैं फोटो और वीडियो बनाने लगा और सोच लिया कि आज संध्या को बिना चोदे नहीं जाऊंगा.मैं एक हाथ से वीडियो और फोटो ले रहा था, और दूसरे हाथ से लंड को पकड़ कर हाथ से ही हिलाये जा रहा था, वो ‘माई गॉड…’ क्या माल है ये संध्या, जब तुमने इसके मुंह में लंड डाल दिया तब आईडिया आया कि अब चुपके से जाके सीधे चोद दूं इसे!संध्या की चूत बिल्कुल बह रही थी और ये टांगों को फैला कर बहुत ज्यादा चुदाई करवाने को बेताब थी.बस फिर आ गया मैं चुपचाप… मुझे न तुम देख पाये ना संध्या देख पाई, पहले चूत में उंगली डाली तो चूत रस से उंगली गीली हो गई और उंगली घुसाते ही संध्या ने पूरी अपनी टांगों को फैला दिया और अपनी टांगों को चौड़ा कर ऊपर कर लिया. मैंने सोचा कि ये तो पागल हो रही है चुदवाने के लिए, लोहा गरम है हथोड़ा मार दो!तब मैंने जल्दी से एकदम लंड संध्या की चूत में फिट किया और सीधा एक झटके में अपना पूरा लंड पूरी ताकत से घुसा दिया जैसे अंदर पूरा घुसा तो संध्या की कमर और सीना अकड़ गया, मैं जान गया कि इस को दर्द हो रहा है तो फिर लन्ड निकाल के दूसरा झटका मारने को तैयार हुआ तो मेरी नज़र चूत में पड़ी तो उसमें से रस निकल रहा था, मैंने अपना लन्ड देखा तो उसमें भी संध्या की चूत का रस लगा हुआ था, तब मैं समझ गया कि ये संध्या बहुत मस्त चुदासी माल थी, आज मुझे इसकी चूत की गर्मी निकाल कर संध्या को ठंडा करना पड़ेगा.तब मेरा जोश और बढ़ गया और मैं जम कर चोदने लगा. इसके मुंह में तुम्हारा लंड घुसा था, नहीं ये रो रो के चिल्ला चिल्ला कर पागल कर देती.इसका दर्द करीब पांच मिनट बाद खत्म हो गया था, शायद तभी अब संध्या अपनी कमर उछाल कर मस्त चूत को ऊपर करके चुदवाने लगी थी, जब इसको जन्नत का मज़ा आने लगा. तब तुम उठ गये और मुझे मारने लगे.
मैंने और राज ने उसकी पूरी बात सुनी, मुझे लगा कि मेरा पुराना यार बिल्कुल सच बोल रहा है, तब मैं उन दोनों के बीच पहली बार बोली- सीड, जो हुआ, वो तो हो चुका है, प्लीज मेरे चक्कर में आपस में मत लड़ो, मैं तुम दोनों से हाथ जोड़ती हूं. जिसको जो करना है, जल्दी करो बस दोनों इतना ध्यान रखना कि मैं एक लड़की हूं जो करना है कर लो पर मुझे बदनाम मत करना.
तभी सीड बोला- मैं नहीं करूंगा बदनाम… पर मुझे तुम्हें पूरा चोदना है. अभी इस तुम्हारे होने वाले पति को समझाओ!और सीड बोला- राज भाई, बोलो चोद लूं मस्त? बस ज्यादा से ज्यादा बीस मिनट की बात है.
तब सर झुका कर राज बोला- मुझे कुछ नहीं पता इस बारे में, जो संध्या को ठीक लगे… उसी से बात करो!राज ने अपना सर नीचे कर लिया.
तब सीड ने मेरी तरफ देखा, मैं सीड की तरफ देखकर मुस्कुरा दी और वो मेरी आंखों में देखकर चोदने का इशारा किया तो फिर से मैं हंस दी और आंखों को नीचे कर लिया.तो सीड जो भी समझा हो… राज से बोला- भाई तुम्हें तो कोई प्राब्लम नही है अगर मैं अभी इस सेक्सी रंडी संध्या को चोदूंगा तो?राज बोला- अब तो तुम कर ही चुके हो, सब अब भला मुझे क्या प्राब्लम हो सकती है, मुझे कोई प्राब्लम नहीं है… पर उसके बाद वीडियो और फोटो डीलिट करना पड़ेगा. पर फिर भी एक बार संध्या से पूछ लो!
सीड बोला- अरे संध्या से क्या पूछना है. राज भाई, तुम यहीं रहोगे इसी रूम में जब मैं संध्या को चोदूंगा अभी तब या थोड़ी देर को बाहर जाओगे?राज बोला- यहीं रहूंगा.तब मैं बोली- आप को अच्छा नहीं लगेगा… आप बाहर चले जाते?पर राज बोला- नहीं, मैं यहीं रहूंगा!
तो सीड बोला- रहने दो!
-  - 
Reply


Possibly Related Threads...
Thread Author Replies Views Last Post
Star Incest Porn Kahani चुदाई घर बार की 47 14,938 Yesterday, 01:24 PM
Last Post:
Tongue Sex kahani किस्मत का फेर 20 22,792 04-26-2020, 02:16 PM
Last Post:
Lightbulb Kamukta kahani प्रेम की परीक्षा 49 39,089 04-24-2020, 12:52 PM
Last Post:
  पारिवारिक चुदाई की कहानी 17 67,514 04-22-2020, 03:40 PM
Last Post:
Thumbs Up xxx indian stories आखिरी शिकार 46 44,272 04-18-2020, 01:41 PM
Last Post:
Lightbulb non veg kahani एक नया संसार 253 517,720 04-16-2020, 03:51 PM
Last Post:
Thumbs Up internetmost.ru Hindi Kahani अमरबेल एक प्रेमकहानी 67 41,329 04-14-2020, 12:12 PM
Last Post:
Thumbs Up Antarvasna Sex चमत्कारी 152 99,584 04-09-2020, 03:59 PM
Last Post:
Star Sex kahani अधूरी हसरतें 272 456,740 04-06-2020, 11:46 PM
Last Post:
Lightbulb XXX kahani नाजायज़ रिश्ता : ज़रूरत या कमज़ोरी 117 269,439 04-05-2020, 02:36 PM
Last Post:



Users browsing this thread: 1 Guest(s)
This forum uses MyBB addons.

Online porn video at mobile phone


chodai.rodpar.sonewali.ka.kahaniपिलाती रही अपना दूध कमुख कहानियांलेडकी लडका को गाली देकर चुदवाती xxxदेसी मा को गाओं मे नागी देखा स्टोरीkajal agarwal nude sex images 2019 sexbaba.netजैकलीन Sexy phntos नगाpaison ki Tanki Karan Judwaa Hindi sexy kahaniyanporn v mast chudai aaaahhhhhibhabi k hot zism photoBobse dabaye xxx hdanterwasna gao me chuchiyo ko bawaya lesbo storieswww.mera gaou mera family. sex stories. comRazai m chudai sexy story/badporno/Thread-deepika-padukone-nude-playing-with-pussy?page=27चावट झवणKarvachoth or maa ki choudai Hindi sex storyसेक्सि,बुलू,वीडिय,फूल,मेबी,incent sex kahani bhai behansexbabaRicha Chadda sexy nangi video dikhaiyeगदराई हुई सास की गेंद भीड़ में दबाईGhar bulaker maya ki chut chudaie ki kahaniदोस्त के साथ डील बीवी पहले चुदाई कहानीDesi52.com sax video veegNanne bhai ko nehlaya land dekha sex storismaa beta sexbaba.sexbaba.net hindi storysमेरे सगे बेटे ने मुझे चोदा और मेरे बुर के अन्दर मूताCatherine tresa fuckedbabasexchudaikahaniहवेली में सामुहिक चुदाईSex ke payaisi khaniलडं भोसङा की फोटूBus ki bhid main bhai ka land satawwwxxxkajliWWWXXXXKALAJA/badporno/Thread-narayani-shashtri-nude-getting-fucked-and-showing-ass?action=nextoldestराज शर्मा माँ बेटा मस्त जवानी की आग सेक्स कहानियांindian sasur bhu pron xbomboSauth hiroin indian anupama and rashi khanna naggi codai photoबूढ़ी बुआ की चूतड़ और झांटों के बाल साफ करें हिन्दी अन्तर्वासना सैक्स कहानीbetabchutsex video hindi dostoki momWww Bangladesh actress nusrat faria nudes naked scenes show sex baba netDadaji apni putting ki chut Mari Xvideo Hindihot aunty ko Jamin pe letaker chodaबुर चुतय घोर से चोदवा adult Bollywood page 2355 xossipbaji salwar niyat bra dabachoot &boob pic comLaddhan mom sex videossalwar sut wali anti ki chudai ssxx viduoneighbourfriendmom sexstoriesbdi behen ne chote bhai k land chuskr shi kiya sex storyAmi ki gand se tati nikali chudai kar KeBoyfriend बनाने के लिये लडकी को कैसे घुरेबुर चोद शेकसी पिचर चालू कर के देactress rashi khana ki rape ki chudai story bahubali actress fuckसेक्स बाबा सेक्सी स्टोरी थ्रेडPad utarne ke bad chut or gang marna pornमस्तराम की कहानी १००%new indian adult forumAdla badli sex baba.commastram gani kahani threadगाउँ की चोदाई वला भाबीकी भिडीयोnewsexstory कॉम हिंदी सेक्स कहानियाँ e0 ए 4 अब e0 ए 4 bf के e0 ए 4 b0 e0 ए 4 9a e0 a5 8b e0 ए 4 ए 6 e0 ए 4 हो e0बहिन भाऊ ट्रेन मधील सेक्स कथा 2019bhabhi ki behan ko lund ka super chataya antarvasna imageMA baba chale porn video chudai ki latest long kahani thread in hindi jins pent wali indian larki ki chodai vidio jhanto wali ki chodai vidiochoda aur chochi piya sex picमा बहन बेटी बुआ आन्टी बहु दीदी ने सलवार खोलकर खेत में पेशाब टटी मुंह में करने की सेक्सी कहानियांकाकू ची panty cha vasantarvasna actress rakul part shavingDidi tumare bhot yad aare hai sex Uncle and bahu की असमंजस sex story हिंदीDeepika Padukone xxxxnxxx videos inलडकियो की बुर कब खुजलती हैववव क्सनक्सक्स टीवी सर्च क्सक्सक्सक्सक्सक्सक्सक्सक्सGar pay ak ladka ko leke gai or chut chat chala nahi to chilungi kamukataileana xxx sex baba.comMadhuri dixit latest nudepics on sexbaba.net 2019umardaraj aunty ki chut chudai ki kahani hindi meyum sex stori in hindi complitenanand nandoi nange chipk chudai kar rahe dekh gili huipoty khilaye sasur ne dirty kahaniBhaijan se chudai ki khaniदो घंटे लगातार जोर से घपाघप सेकस विङीयो ङाऊनलोङ